[ad_1]
weight lifting at home

मां-बाप मजदूर, बेटी जुगाड़ से करती है वेट-लिफ्टिंग

झुंझुनूं की कंचन ने संभाग स्तरीय वेटलिफ्टिंग खेल प्रतियोगिता में 94 किलो वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीता.

कंचन मंडावरा गांव की ढाणी घाटियों की निवासी है.

कंचन के माता-पिता मजदूरी करके अपना घर चलाते हैं. 

कंचन के पास संसाधनों की कमी तो है पर उसका हौसला गजब का है. 

वेटलिफ्टिंग की प्रैक्टिस के लिए कंचन ने मटकों में सीमेंट भरकर देसी जुगाड़ बना रखा है.

कंचन पिछले 4 साल से विभिन्न खेलों में भाग ले चुकी हैं. 

लेकिन घर की स्थिति कमजोर होने कि वजह से कंचन वेटलिफ्टिंग का पूरा सेट खरीद नहीं सकती.

इस वजह से राज्य क्रीड़ा परिषद के खेल विभाग की टीम ने कंचन को वेटलफ्टिंग का सामान उपलब्ध कराया.

 कंचन ने वेटलिफ्टिंग में अब तक कांस्य पदक और स्वर्ण पदक जीता हैं.

नौकरी छोड़ बेच रहे चिकन-चावल, कमाई हैरान कर देगी

[ad_2]